Aries Yearly Horoscope 2023: मेष राशि वालों के लिए इस मामले में 2023 रहेगा शानदार, जानें अपना वार्षिक राशिफल

Aries Yearly Horoscope 2023: नए साल को लेकर हर किसी के मन में यह सवाल है कि 2023 उसके लिए कैसा रहेगा. आइए जानते हैं कि नया साल मेष (Aries) राशि के जातकों के लिए कैसा रहने वाला है.

Aries Yearly Horoscope 2023: मेष राशि वालों के लिए इस मामले में 2023 रहेगा शानदार, जानें अपना वार्षिक राशिफल

Aries Yearly Horoscope 2023: मेष राशि वालों के लिए कुछ ऐसा रहेगा नया साल 2023.

Aries Yearly Horoscope 2023: नया साल 2023 आने के कुछ ही दिन बाकी रह गए हैं. ऐसे में हर कोई यह जानने के लिए उत्सुक है कि उसके लिए आने वाला नया साल 2023 कैसा रहेगा. नए साल में शिक्षा, नौकरी, व्यापार, वैवाहिक जीवन और स्वास्थ्य में क्या-क्या परिवर्तन देखने को मिलेंगे, इसके बारे में जानने के लिए भी अभी से लोग उत्सुक हैं. दरअसल ज्योतिष शास्त्र गणना के आधार पर यह बताता है कि किसी भी व्यक्ति के लिए आने वाला समय कैसा रहेगा. ऐसे में जानते हैं कि मेष राशि वालों के लिए नया साल कैसा बीतने वाला है.

यह भी पढ़ें

मेष राशि वार्षिक राशिफल 2023 | Aries Yearly Horoscope 2023

मेष राशि वालों को पिछले वर्ष की तुलना में नया साल 2023 काफी अच्छा रहने वाला है. हलांकि शुरुआती महीनों में मानसिक परेशानियों से गुजरना पड़ सकता है. किसी भी कार्य की सफलता आपको दिन का व्यापार क्यों नहीं करना चाहिए के लिए झंझटों में पड़ सकते हैं. यानी काम आसानी से हल नहीं होगा. वैसे अततः सफलता मिलेगी. बिजनेस करने वालों को जोखिम लेने के बाद ही तरक्की मिल सकती है. पुराने कार्य पूर्ण होने या उधारी की वापसी पर भी धन की आमदनी बढ़ेगी. उधार किसी को ना दे अन्यथा वापसी में परेशानी आएगी. घर का वातावरण और स्वास्थ्य दोनों बदलते आपको दिन का व्यापार क्यों नहीं करना चाहिए रहेंगे.

साल 2023 के पहले महीने में शनि ग्रह 11वें घर आपको दिन का व्यापार क्यों नहीं करना चाहिए में गोचर करेंगे. जिससे आपको वाहन सुख, खुद का घर आपको दिन का व्यापार क्यों नहीं करना चाहिए बनाने का सपना पूरा हो सकता है. इसके साथ ही मेष राशि वालों का व्यक्तित्व भी बदलता हुआ नजर आएगा.

साल 2023 के बीच के कालखंड में गुरु ग्रह लग्न में होने के कारण विद्यार्थियों को अपार सफलता मिलेगी. इसके साथ ही अध्ययन के लिए यह समय बहुत अच्छा साबित होगा. वर्ष के मध्य में नौकरीपेशा लोगों की तरक्की होने के पूर्ण योग हैं. जो विद्यार्थी कई वर्षो से सरकारी नौकरी के लिए प्रयास कर रहे हैं, वह अप्रैल से नवंबर माह के मध्य नौकरी हासिल कर सकते हैं.

महिलाओं को इस वर्ष मिलाजुला आपको दिन का व्यापार क्यों नहीं करना चाहिए परिणाम मिलेगा, पर शादी के मामले में यह वर्ष सुखद अनुभूति देगा. जिन जातकों की शादी होने में दिक्कत आ रही है उन्हें इस वर्ष अपने पसंद का पार्टनर मिल सकता है. साल 2023 के अंत में मेष राशि के जातकों को वाहन चलाने में सावधानी बरतनी होगी. जातक को सेहत से अनदेखी करना महंगा पड़ सकता है. ऐसे में डॉक्टर का उचित परामर्श अवश्य लेना चाहिए.

बच्चों के स्वास्थ्य को लेकर चिंता बनी रहेगी, साल के अंत में परिवार में वातावरण तनावग्रस्त रहेगा. मतभेद के चलते बोल-चाल भी प्रभावित होगा. व्यसन से दूर रहे अन्यथा धन और स्वास्थ्य की हानि हो सकती है. मेष राशि के जातकों को हनुमान जी की पूजा करनी चाहिए और हर मंगलवार हनुमान मंगल कवच का पाठ करना चाहिए. साथ ही मूंगा रत्न धारण करना अच्छा रहेगा.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. एनडीटीवी इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

13 महीने का होगा 2023 का हिंदू कैलेंडर: 19 साल बाद बनेगा ऐसा संयोग, 2 महीने का होगा श्रावण मास

Hindu calendar of 2023 will be of 13 months: Such a coincidence will happen after 19 years, Shravan month will be of 2 months

हिंदू पंचांग के अनुसार आने वाला साल 12 की जगह 13 महीने का होगा। साल 2023 में भगवान शिव का प्रिय सुनवाई इस बार महीना एक नहीं बल्कि 2 महीने का होगा, ऐसा अधिकमास के कारण होगा जिसे कुछ जगहों पर ‘मलमास’ भी कहा जाता है।

साल 2023 में जब सिर्फ दिन बचे हैं तो ज्योतिषियों का कहना है कि आने वाला साल 2023 खास होगा। हिंदू पंचांग के अनुसार आने वाला साल 12 की जगह 13 महीने का होगा, शिव भक्तों को एक के बजाय दो महीने शिव आराधना का अवसर मिलेगा। और ऐसा अधिकमास के कारण होगा जिसे ‘मलमास’ भी कहा जाता है। ज्योतिषियों का कहना है कि अधिकमास के कारण करीब 19 साल बाद ऐसा संयोग बनेगा जहां 1 की जगह 2 श्रवणमास होंगे।

कब से शुरू होगा अधिकमास ??

अधिकमा 18 जुलाई से शुरू होगा और 16 अगस्त तक चलेगा। यह महीना भगवान विष्णु की पूजा के लिए भी शुभ माना जाता है और चूंकि यह महीना श्रावण के महीने के साथ आता है, इसलिए शिव भक्तों के पास भगवान शिव की पूजा करने के लिए अधिक समय होगा।

हिंदू पंचांग के अनुसार हर तीन साल में एक अतिरिक्त मास जुड़ता है और अधिकमास हर चार साल में आता है, जिसे हम मलमास या पुरुषोत्तम मास भी कहते हैं। सौर वर्ष 365 दिन और 6 घंटे का होता है जबकि चंद्र वर्ष 354 दिनों का होता है। इस तरह हर साल दोनों के बीच 11 दिनों का अंतर आता है। प्रत्येक वर्ष बनने वाले 11 दिनों के इस अंतराल को जोड़ दिया जाए तो यह एक आपको दिन का व्यापार क्यों नहीं करना चाहिए महीने के बराबर हो जाता है और इस अंतराल के कारण चार साल में एक बार चंद्र मास बनता है जिसे हम अधिकमास कहते हैं।

लीप महीने में ये न करें:

मांगलिक कार्य : अधिकमास में विवाह करने से बचना चाहिए। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार यदि इस माह में विवाह किया जाता है तो पति-पत्नी में अनबन होती है और घर में सुख-शांति नहीं रहती है, इसके अलावा पति-पत्नी के बीच खतरे के कारण दोनों भावनात्मक रूप से वंचित रह जाते हैं। और भौतिक सुख।

नया काम: अधिकमा में कोई नया काम या नया व्यवसाय शुरू नहीं करना चाहिए। अधिकमास में कोई नया व्यवसाय शुरू करने से आर्थिक तंगी आती है। कोई नया काम या कोई बड़ा निवेश भी इस माह में नहीं करना चाहिए।

मकान या दुकान आपको दिन का व्यापार क्यों नहीं करना चाहिए का निर्माण: अधिकमास में नए घर का निर्माण या निवेश नहीं करना अनिवार्य माना गया है। इस दौरान बने आपको दिन का व्यापार क्यों नहीं करना चाहिए घर में सुख-शांति का अभाव होता है, इसलिए यदि आप घर आपको दिन का व्यापार क्यों नहीं करना चाहिए या कोई अन्य संपत्ति खरीदना चाहते हैं, तो आपको अधिकमास शुरू होने से पहले इसे खरीद लेना चाहिए।

शुभ कार्य : अन्य मांगलिक कार्यों को भी इस दौरान टाल देना चाहिए। छोटे बच्चे की हजामत बनाने या कान छिदवाने जैसी चीजें भी नहीं करनी चाहिए। माना जाता है कि इस दौरान कोई भी शुभ कार्य किया जाए तो संबंध खराब होने की संभावना रहती है।

रेटिंग: 4.90
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 129