×

फायदे और निवेश के तरीके

अस्वीकरण :
इस वेबसाइट पर दी की गई जानकारी, प्रोडक्ट और सर्विसेज़ बिना किसी वारंटी या प्रतिनिधित्व, व्यक्त या निहित के "जैसा है" और "जैसा उपलब्ध फायदे और निवेश के तरीके है" के आधार पर दी जाती हैं। Khatabook ब्लॉग विशुद्ध रूप से वित्तीय प्रोडक्ट और सर्विसेज़ की शैक्षिक चर्चा के लिए हैं। Khatabook यह गारंटी नहीं देता है कि सर्विस आपकी आवश्यकताओं को पूरा करेगी, या यह निर्बाध, समय पर और सुरक्षित होगी, और यह कि त्रुटियां, यदि कोई हों, को ठीक किया जाएगा। यहां उपलब्ध सभी सामग्री और जानकारी केवल सामान्य सूचना उद्देश्यों के लिए है। कोई भी कानूनी, वित्तीय या व्यावसायिक निर्णय लेने के लिए जानकारी पर भरोसा करने से पहले किसी पेशेवर से सलाह लें। इस जानकारी का सख्ती से अपने जोखिम पर उपयोग करें। वेबसाइट पर मौजूद किसी भी गलत, गलत या अधूरी जानकारी के लिए Khatabook जिम्मेदार नहीं होगा। यह सुनिश्चित करने के हमारे प्रयासों के बावजूद कि इस वेबसाइट पर निहित जानकारी अद्यतन और मान्य है, Khatabook किसी भी उद्देश्य के लिए वेबसाइट की जानकारी, प्रोडक्ट, सर्विसेज़ या संबंधित ग्राफिक्स की पूर्णता, विश्वसनीयता, सटीकता, संगतता या उपलब्धता की गारंटी नहीं देता है।यदि वेबसाइट अस्थायी रूप से अनुपलब्ध है, तो Khatabook किसी भी तकनीकी समस्या या इसके नियंत्रण से परे क्षति और इस वेबसाइट तक आपके उपयोग या पहुंच के परिणामस्वरूप होने वाली किसी भी हानि या क्षति के लिए उत्तरदायी नहीं होगा।

We'd love to hear from you

We are always available to address the needs of our users.
+91-9606800800

Investment in Hindi

Investment in Hindi इन्वेस्टमेंट के तरीके. इन्वेस्टमेंट और सेविंग यानि बचत और निवेश तथा इन्वेस्टमेंट के तरीके पर हिंदी में लेख. निवेश कोई पेचीदा विषय नहीं है. थोड़ी बहुत निवेश के बारे में जानकारी हर किसी को होनी चाहिए. शेयर बाजार, म्यूच्यूअल फण्ड, सिप यानी SIP. ईटीएफ ETF, डाक घर बचत योजनायें, बैंक एफडी, Retirement Solutions, साधारण जमा, पोस्ट ऑफिस बचत खाते, recurring deposit रिकरिंग डिपाजिट तथा अन्य प्रकार के निवेश तथा इन्वेस्टमेंट के तरीके के बारे में लेख आसान हिंदी में यहाँ हैं.

इन्वेस्टमेंट के तरीके Investment in Hindi

learn investment and saving for good returns and how to invest in Share Bazar, Mutual Funds, SIP, ETF, Post Office and Saving Accounts in Hindi. Your guide to Investment in Hindi at शेयर बाजार – Share Markets in Hindi.

Fixed Deposit in Hindi फिक्स्ड डिपॉजिट क्या है

Fixed Deposit in Hindi फिक्स्ड डिपॉजिट निवेश का आसान और सुरक्षित तरीका. फिक्स्ड डिपॉजिट क्या है इसके बारे में विस्तार से बताएँगे. क्या होते हैं फिक्स्ड डिपॉजिट के फायदे और नुकसान. फिक्स्ड डिपॉजिट पर कैसे लगता है इनकम टैक्स और किसे करवाना चाहिए फिक्स्ड डिपॉजिट और म्यूच्यूअल फण्ड लें, SIP करवाएं या फिक्स्ड डिपॉजिट.

SIP Meaning in Hindi एसआईपी क्या है

SIP meaning in Hindi

SIP Meaning In Hindi एसआईपी क्या है और इसमें निवेश के क्या फायदे और नुकसान हैं यहाँ आपको समझा रहे हैं हिंदी में। कैसे यह कम जोखिम के साथ अनुशासित … Read more

म्यूचुअल फंड क्या है और कैसे काम करता है

Mutual Fund Meaning in Hindi

Mutual Fund in Hindi म्यूचुअल फंड क्या है, कैसे काम करता है और क्या हैं इसके फायदे आइये और नुकसान हिंदी में जानते हैं.

म्यूचुअल फंड और SIP में अंतर

म्यूचुअल फंड और SIP

म्यूचुअल फंड और SIP में अंतर क्या होता है। म्यूचुअल फंड क्या है और SIP क्या है तथा दोनों में क्या अंतर इसे आसान भाषा में समझते हैं।

Warren Buffett Tips in Hindi

Warren Buffett Tips in Hindi

Warren Buffett Tips in Hindi वॉरेन बफे के निवेश टिप्स जिन्हें आप अपना लेंगे तो निवेश में अपने रिस्क को एकदम कम कर लेंगे और लाभ फायदे और निवेश के तरीके कमायेंगे।

Post Office Fixed Deposit in Hindi

Post Office Fixed Deposit in Hindi पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट

Post Office Fixed Deposit in Hindi पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट के नियम, ब्याज दर और अन्य जानकारी हिंदी में विस्तार से।

ICICI Prudential Fund in Hindi

ICICI Prudential Mutual Fund

आईसीआईसीआई प्रुडेंशियल म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में और इसकी योजनाओं की जानकारी आसान हिंदी में। Details about ICICI Prudential Asset Management Company Ltd in Hindi.

FD या Life Insurance क्या लें

FD या जीवन बीमा क्या लें

FD या जीवन बीमा क्या लें या किसमें निवेश करें इसे विस्तार से समझते हैं कि किसको जीवन बीमा लेना चाहिये और किसे फिक्स्ड डिपॉजिट करवाना चाहिये और दोनों में से किस में अधिक फायदा होता है।

निवेश क्या है

निवेश क्या है

निवेश क्या है, निवेश कितने प्रकार के हो सकते हैं और निवेश का सिद्धांत क्या है। किस प्रकार का निवेश मॉडल आपके लिये सही रहेगा। इस सब की जानकारी लेते हैं हिंदी में विस्तार से।

SIP में निवेश कैसे करें

SIP में निवेश कैसे करें

SIP में निवेश कैसे करें जानिये कैसे आसान तरीके से आप घर बैठे ऑनलाइन एसआईपी में अपना निवेश शुरू कर सकते हैं कुछ आसान कदमों में।

गोल्ड में कैसे 3 अलग-अलग तरीकों से इन्वेस्ट करें?

दिवाली की शुरुआत मानी जाने वाली धनतेरस धन और समृद्धि का उत्सव है। दशकों से, भारतीय इस दिन अपने स्थानीय ज्वैलर्स से सोना खरीदने के लिए जाते हैं। यह गोल्ड की खरीद के लिए साल का सबसे शुभ दिन माना जाता है, यही वजह है कि आपको ज्वेलरी की दुकानों पर महिलाओं की भारी भीड़ देखी जाती हैं, जिनमें पुरुष भी पीछे नहीं हैं।

हालांकि, समय बदल रहा हैं। इन दिनों सोना खरीदने के कई तरीके हैं, खासकर अगर आप इसे निवेश के नजरिए से देख रहे हैं। तो यहां इस धनतेरस पर सोना खरीदने के तीन गैर-पारंपरिक तरीके बताए गए हैं, जो भविष्य में आपके लिए लाभदायक साबित होंगे:

गोल्ड का सिक्का और बार

परंपरागत रूप से, लोगों ने हमेशा किसी अन्य क़ीमती सामान की तुलना में गोल्ड के ज्वैलरी खरीदना पसंद किया है। हालांकि, गहनों में इस्तेमाल किया जाने वाला सोना कभी भी 100% शुद्ध नहीं होता है और इसमें मेकिंग चार्ज भी शामिल होता है। अगर आप किसी आपात स्थिति में अपने ज्वैलरी बेचने का फैसला लेते हैं तो यह फायदेमंद नहीं हो सकता है।

गोल्ड के सिक्कों और बार में निवेश करना पूरी तरह से सोना खरीदने का एक गैर-पारंपरिक तरीका नहीं है क्योंकि यह अभी भी फिजिकल गोल्ड है। लेकिन यह निश्चित रूप से एक बेहतर विकल्प है क्योंकि शुद्धता का स्तर 99.5% या उससे अधिक है और ये सिक्के और बार बीआईएस हॉलमार्क के साथ आते हैं।

गोल्ड ईटीएफ

गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ईटीएफ) ओपन-एंडेड म्यूचुअल फंड हैं जो गोल्ड की बदलती कीमतों पर निर्भर करता हैं। इनमें इन्वेस्ट करने से आपको दोहरी लाभ मिलती है क्योंकि आप न केवल गोल्ड में इन्वेस्ट कर रहे हैं बल्किआपको स्टॉक्स में ट्रेडिंग का मौका भी मिल रहा हैं।

इन्वेस्ट कम जोखिम और जो लोग अपने पोर्टफोलियो में विविधता लाना चाहते है, उन लोगों के लिए आदर्श हैं। आप ऑनलाइन गोल्ड ईटीएफ खरीद सकते हैं क्योंकि वे बहुत लचीले हैं और आप आसानी से प्रवेश और बाहर निकल सकते हैं। इन्वेस्ट की जरूरत भी बहुत कम है; आप कम से कम एक ग्राम गोल्ड के साथ शुरु कर सकते हैं।

गोल्ड बांड
गोल्ड बॉन्ड फिजिकल गोल्ड के एक सुरक्षित विकल्प के रूप में वे लागत और भंडारण के जोखिम को खत्म कर रहा हैं। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा सरकार की ओर से जारी किए गए ये ऐसी प्रतिभूतियां हैं जिनकी गणना गोल्ड के वजन के आधार पर की जाती है। बांड में उल्लिखित वजन डीमैट और कागज के रूप में, उस मात्रा में गोल्ड को खरीदने और रखने के समान हैं।

अगर आपके पास तत्काल फंड नहीं है, लेकिन अभी भी गोल्ड में इन्वेस्ट करना चाहते हैं, तो आप गोल्ड फ्यूचर्स में इन्वेस्ट कर सकते हैं। यह आपको एक निश्चित तिथि पर पहले से निर्धारित मूल्य पर गोल्ड की एक निर्धारित मात्रा खरीदने की अनुमति देता है। आपको केवल कैश डिपाजिट करके ब्रोकर के माध्यम से फ्यूचर्स अनुबंध की व्यवस्था करने की आवश्यकता हैं।

एचडीएफसी बैंक आपको इस धनतेरस पर गोल्ड में इन्वेस्ट करने के दो तरीके ऑफर कर रहा है। पहला है फायदे और निवेश के तरीके भारतीय गोल्ड का सिक्का, जो बीआईएस हॉलमार्क के साथ आता है और सरकार द्वारा प्रचारित यह पहली पेशकश है। दूसरा विकल्प है मुद्रा गोल्ड बार, जो विशेष रूप से स्विट्जरलैंड से आयात किया जाता है।

दोनों परख प्रमाणन के साथ आते हैं, जिसे गोल्ड की शुद्धता के लिए एक मानक के रूप में विश्व स्तर पर स्वीकार किया जाता है। वे चुनिंदा शहरों में उपलब्ध हैं और कई सुरक्षा सुविधाओं के साथ आते हैं जो छेड़छाड़ की कोई गुंजाइश नहीं छोड़ते हैं। एचडीएफसी बैंक उन कुछ बैंकों में से एक है जिन्हें भारत में अपने ग्राहकों को सोना के आयात और बिक्री के लिए आरबीआई से मंजूरी मिली है।

एचडीएफसी बैंक सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड एक अन्य विकल्प है। ये प्रति वर्ष 2.5% की सुनिश्चित ब्याज दर प्रदान करते हैं। आप नेट बैंकिंग और अपने एचडीएफसी बैंक डीमैट अकाउंट के माध्यम से आसानी से इन्वेस्ट का आनंद ले सकते हैं। बांड का कार्यकाल आठ साल का होता है, जिसमें पांचवें साल से एग्जिट का विकल्प शुरू होता है। सरकार द्वारा जारी, वे स्टॉक एक्सचेंज पर व्यापार योग्य हैं। उन पर टीडीएस लागू नहीं होता है और उन्हें ऋण के लिए डिपॉजिट के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। एचडीएफसी बैंक गोल्ड ईटीएफ में भी डील करता है।

इसलिए, आगे बढ़िए और इस धनतेरस पर कुछ अलग करें। लेकिन अपने जीवन में गोल्ड के ग्लैमर और चमक को जोड़ना न भूलें!

अपने गोल्ड के इन्वेस्ट के बारे में सोच रहें हैं? गोल्ड लोन के बारे में अधिक जानने के लिए यहां क्लिक करें और जानें यह आपको कैसे लाभ पहुंचा सकता है!

गोल्ड में खरीदारी करने के लिए सोच रहे हैं? अपने नेटबैंकिंग में लॉग इन करें > शुरू करने के लिए ऑफ़र टैब पर क्लिक करें! आप अपनी स्थानीय एचडीएफसी बैंक शाखा में भी जा सकते हैं।

इस धनतेरस, इस सुनहरे सौदे को पकड़ो!

एचडीएफसी बैंक क्रेडिट कार्ड के साथ आभूषण की खरीदारी करें और 10X रिवॉर्ड पॉइंट प्राप्त करें।

आपका म्यूच्यूअल फण्ड गाइड

म्यूचुअल फंड ने पिछले कुछ वर्षों में काफी लोकप्रियता हासिल की है और विकास दर में भी काफी वृद्धि देखी गई है। जिस आसानी से एक छोटा निवेशक अपने पैसे को विविध सिक्योरिटीज के पूल में निवेश कर सकता है, यही कारण है कि म्यूचुअल फंड निवेशकों के लिए पसंदीदा गो-टू-इनवेस्टमेंट विकल्पों में से एक बन गया है।
विकसित म्यूचुअल फंड उद्योग के साथ, इन फंडों की विशेषताओं, संचालन और प्रकृति के बारे में कई प्रश्न भी विकसित हुए हैं। यह कोर्स छात्रों को म्यूचुअल फंड में निवेश की मूल कॉन्सेप्ट्स और नेचर को समझने में मदद करेगा |

About the Trainer

Kredent Academy

Kredent Academy is a pioneer of financial market education in India and has been at the forefront of the spreading financial education in India since its inception in 2008. Starting from basic finance to advanced concepts like stock market investing, fundamental and technical analysis, and options trading, we have courses that will teach you to save and invest money responsibly and grow your wealth steadily. These courses are taught by some of the best instructors and market experts and are highly practical focused to give the students a holistic understanding of the subjects.

Objective

इस पाठ्यक्रम का उद्देश्य छात्रों को इंटरैक्टिवपारस्परिक तरीके से म्यूचुअल फंडों और इसके कार्यों की गहन जानकारी प्रदान करना है। यह कोर्स आपको म्यूचुअल फंड की मूल कॉन्सेप्ट्स और संचालन को समझने के लिए बनाया गया है ताकि आपको म्यूचुअल फंड में निवेश करने में आसानी हो।

Benefits

इस कोर्स को पूरा करने के बाद, छात्रों को स्पष्ट रूप से समझ आ जाएगा कि म्यूचुअल फंड निवेश कैसे काम करता है और म्यूचुअल फंड में निवेश करने से पहले किन बातों का ध्यान रखना अनिवार्य है । इस कोर्स में विभिन्न म्युचुअल फंड कॉन्सेप्ट्स को दिन-प्रतिदिन वास्तविक जीवन की तुलनाओं की मदद से समझाया गया है जो छात्रों के लिए इस प्रकार के निवेश के बेसिक फायदे और निवेश के तरीके नेचर को समझना में सहायता करेगी |
इस कोर्स के साथ आपको एक म्यूचुअल फंड गाइडबुक भी मिलेगा जो आपको नोट्स बनाने और रेफेरेंस मटेरियल के लिए काम आएगा |

Topics Covered

इस पाठ्यक्रम में निम्नलिखित अवधारणाओं पर चर्चा की गई है:

  • म्यूच्यूअल फंड्स क्या होता है ?
  • म्यूच्यूअल फंड्स में निवेश के क्या फायदे है ?
  • म्यूच्यूअल फंड्स के विभिन्न प्रकार
  • विभिन्न प्रकार की निवेश योजनाए
  • म्यूचुअल फंड में निवेश करने के तरीके
  • एसेट्स अंडर मैनेजमेंट
  • New Offer Fund (NFO)
  • बेंचमार्क
  • Exchange-traded fund (ETFs)
  • Exit load
  • Expense ratio
  • Offer document
  • Factsheet
  • Net Asset Value (NAV)
  • म्यूचुअल फंड स्कीम कैसे काम करती है?
  • म्यूच्यूअल फंड और टैक्सेज

Intended Participants

यह पाठ्यक्रम किसी भी छात्र या कामकाजी पेशेवर के लिए है जो अपनी निवेश यात्रा शुरू करना चाहता है। कोई भी निवेशक जिसके पास निवेश प्रक्रिया के बारे में कोई जानकारी नहीं है वह इस पाठ्यक्रम से लाभ उठा सकता है|

Section > : >

Chapter > : >

No processing fee, no interest cost

Axis Bank

Month EMI Overall Cost
3 [email protected] no cost 0.00
6 [email protected] no cost 0.00

ICICI फायदे और निवेश के तरीके Bank

Month EMI Overall Cost
3 [email protected] no cost 0.00
6 [email protected] no cost 0.00

Axis Bank

Month EMI Overall Cost
9 [email protected]% pa 0.00
12 [email protected]% pa 0.00

ICICI BANK

Month EMI Overall Cost
9 [email protected]% pa 0.00
12 [email protected]% pa 0.00

Student Reviews

Be the first one to leave your feedback to help fellow learners.

Thank you for your feedback!

You have फायदे और निवेश के तरीके already submitted your review.

Don't have an account? Sign up here.

Reset your password

Enter your email address and we'll send you a link to reset your password.

Already have an account? Sign in

Sign Up to Get Started

Already have an account? Sign in here

Create an account

Already have an account? Sign in here.

Please type the verification code you have received in your registered email ID.

Mobile Number Verification

Please type the OTP you have received in your registered mobile no. >

You have successfully verified your account.

Adding your favorite product..

Please verify your account later.

Adding your favorite product..

Thank you for your interest. Will you like to register with us?

One of our councellors will call you as soon as possible

We have send a verification mail. Please Verify your account on clicking with the link

One of our councellors will call you as soon as possible

Feedback Survey

Learn on the go & get Special in-app Discount!

×

निवेश के 7 फायदे ! Importance of Savings and Investment In Hindi

Importance of Savings and Investment

निवेश के 7 फायदे ! Importance of Savings and Investment In Hindi

Benefits of Investment In Hindi – क्या आप अपने कमाए हुए पैसो का कुछ हिस्सा बचत के तौर पर रखते है ? क्या आप उन बचाए हुए पैसो को निवेश ( Investment ) करते है ? यदि नहीं तो आज के इस लेख में हम बात करने वाले है पैसो की बचत और निवेश के फायदों के बारे में ! दोस्तों निवेश एक ऐसी प्रक्रियां है जो हमें आने वाले दिनों में एक बड़ी मात्रा में सम्पति बनाकर देती है ! यदि हम हमारी आमदनी का कुछ प्रतिशत निवेश करते है तो आने वाले दिनों में हम पैसो की चिंता से मुक्त हो सकते है ! आइये जानते है पैसो की बचत और निवेश के फायदों के बारे में – Importance of Savings and Investment In Hindi

Importance of Savings and Investment In Hindi

1 ) यह आपके धन को बढाता फायदे और निवेश के तरीके है

दोस्तों वर्तमान में निवेश के ऐसे कई साधन और तरीके है जिसमे आप अपने पैसो को निवेश कर सकते है ! स्टॉक , म्यूच्यूअल फंड्स , बांड्स , फिक्स्ड डिपाजिट आदि ऐसे कई विकल्प है जिसे आप निवेश के तौर पर चुन सकते है ! ऐसे कई फंड्स और विकल्प है जिसमे आप अधिक रिस्क , कम रिस्क , लम्बी अवधि , छोटी अवधि , एकमुश्त निवेश किसी भी विकल्प को चुन सकते है और कुछ ही समय में शानदार रिटर्न से अपनी सम्पति को बढ़ा सकते है !

2 ) यह मुद्रा स्फीति को हरा देता है

हर साल विभिन्न प्रकार की वस्तुओ की कीमत में थोडा – थोडा इजाफा होता रहता है जिसे मुद्रा स्फीति कहते है ! जैसे कोई वस्तु आज सौ रूपये की आती है तो आने वाले 1 या दो सालो में उसकी कीमत में वृद्धि हो जाएगी , जिसे हम मुद्रा स्फीति कहते है ! यदि हम पैसो को सिर्फ बचाके रखते है और निवेश नहीं करते है तो इससे आने वाले कुछ सालो में उन पैसो की कीमत घट जाएगी , इसलिए उन पैसो को निवेश करना बहुत जरुरी है ताकि मुद्रा स्फीति का प्रभाव हम पर ना पड़े !

उदहारण : माना की हर साल मुद्रा स्फीति 5 प्रतिशत की दर से बढती है और हमारे पैसो के निवेश से हमें हर साल 10 प्रतिशत से रिटर्न मिलता है तो इससे मुद्रा स्फीति का हम पर ज्यादा असर नहीं फायदे और निवेश के तरीके होगा क्योंकि मुद्रा स्फीति 5 प्रतिशत की दर से बढ़ रही है जबकि हमारा पैसा 10 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा है ! इसलिए हमें पैसो को निवेश जरुर करना चाहिए !

3 ) यह दीर्घकालीन लक्ष्यों की प्राप्ति में सहायक है

हर व्यक्ति का सपना होता है कि वह अपने बच्चो को अच्छी शिक्षा दिलाये , उनकी अच्छे से शादी करे और उनके पास एक अच्छा सा घर और गाड़ी हो ! क्या आपको पता इन सबको पाने के लिए अधिक धन की आवश्यकता होती है ? यह तभी संभव हो सकता है जब आप नियमित रूप से निवेश करते है ! निवेश करने से कुछ ही सालो में आपका धन कई गुना बढ़ जाता है जिससे हम अपने दीर्घकालीन लक्ष्यों को आसानी से पूरा कर सकते है और सुखी जीवन जी सकते है !

4 ) आर्थिक आजादी

यदि आप भविष्य में अपने बच्चो या रिश्तेदारों पर निर्भर नहीं रहना चाहते है तो आपको अच्छे रिटर्न देने वाले विकल्पों में निवेश करना चाहिए , जिससे आप भविष्य में आर्थिक आजादी प्राप्त कर सके ! निवेश ही एकमात्र ऐसा विकल्प है जो आपको भविष्य में आर्थिक स्वतंत्रता प्रदान करता है !

5 ) निवेश अनपेक्षित खर्चो को कम करता है

यदि आप में निवेश करने की आदत है तो यह आपको अपने फालतू के खर्चो को कम करने में सहायता करता है ! चूँकि आपको पता होता है कि अपनी आमदनी का कुछ हिस्सा निवेश करना है इससे आप बेवजह के कर्च करने से बच जायेंगे !

6 ) यह आपातकालीन स्थिति में सहायता करता है

मनुष्य के जीवन में आपातकालीन स्थिति कभी भी पैदा हो सकती है चाहे वह बीमारी से उत्पन्न हुई हो , प्राकृतिक आपदा से या फिर किसी अन्य कारण से यह आपको हमेशा ऐसी स्थिति में सहायता करता है ! क्योंकि आपके द्वारा निवेशित राशी कुछ ही सालो में एक बड़ा फण्ड बन जाती है जो आपको संकट की स्थिति में कर्ज लेने से बचाती है !

7 ) कंपाउन्डिंग का फायदा

यदि आप अपने पैसो को Mutual Fund या किसी अन्य विकल्प में निवेश करते है तो इसमें आपको कंपाउन्डिंग का फायदा मिलता है ! इसे हम चक्रवृद्धि ब्याज भी कह सकते है ! निवेश का यह एक ऐसा फायदा है जो आपके फायदे और निवेश के तरीके धन को कई गुना रफ़्तार से बढाता है ! कंपाउन्डिंग में आपको अपनी निवेशित राशी पर मिलने वाला ब्याज हर साल आपकी मूल राशी में ऐड होता जाता है और आपको मिलने वाला ब्याज भी बढ़ता जाता है !

दोस्तों उम्मीद करता हूँ Benefits of Investment In Hindi लेख आपको जरुर अच्छा लगा होगा ! अगर हमारा यह लेख Importance of Savings and Investment In Hindi आपको अच्छा लगा है तो प्लीज इसे शेयर जरुर करे !

Related Post :

  • पैसा बचाने के आसान तरीके !
  • प्रॉपर्टी खरीदते समय ये सावधानियाँ रखे !
  • 50 + Small Business Ideas In Hindi !
  • बिज़नेस में सफलता कैसे पाए ?

I Am Adv. Jagdish Kumawat. Founder of Financeplanhindi.com . Here We Are Share Tax , Finance , Share Market, Insurance Related Articles in Hindi.

रेटिंग: 4.51
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 786